मुगल म्यूजियम का नाम छत्रपति शिवाजी के नाम पर, सीएम योगी बोले-मुगल हमारे नायक नहीं हो सकते

0
23

आगरा: आगरा के मुगल म्यूजियम का नाम बदलकर छत्रपति शिवाजी महाराज कर दिया हैं सीएम योगी ने आज एक बैठक में कहा कि मुगलों को भारतीयों के लिए आदर्श के रूप में नहीं देखा जा सकता है, इसलिए शिवाजी जैसे भारतीय प्रतीकों को लोगों के बीच राष्ट्रवाद और देशभक्ति को बढ़ावा देने के लिए बढ़ावा देने की आवश्यकता है। आगरा में ‘मुगल’ संग्रहालय (Mughal Museum) अभी भी निर्माणाधीन है।

सीएम योगी आदित्यनाथ ने वीडियो कान्फ्रेंसिंग के माध्यम से आगरा मंडल के विकास कार्यों की समीक्षा की, उन्होंने कहा है कि आगरा में निर्माणाधीन मुगल म्यूजियम, छत्रपति शिवाजी महाराज के नाम स्थापित होगा। उन्होंने कहा है कि उत्तर प्रदेश सरकार राष्ट्रवादी विचारों को पोषित करने वाली है।गुलामी की मानसिकता के प्रतीक चिन्हों को छोड़, राष्ट्र के प्रति गौरवबोध कराने वाले विषयों को बढ़ावा देने की आवश्यकता है। हमारे नायक मुगल नहीं हो सकते। शिवाजी महराज हमारे नायक हैं।

मुख्यमंत्री ने स्मार्ट सिटी रैंकिंग में आगरा का स्थान देश में तृतीय होने हर्ष जताया है,मंडलायुक्त के साथ-साथ जनपद आगरा, फिरोजाबाद, मैनपुरी और मथुरा के जिलाधिकारियों से जनपद में प्रस्तावित और जारी विभिन्न योजनाओं की प्रगति का विवरण प्राप्त करते हुए मुख्यमंत्री जी ने संपूर्ण ब्रज क्षेत्र में पेयजल की समस्या के निस्तारण के लिए जारी परियोजनाओं को शीघ्रता से पूर्ण करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि शुद्ध पेयजल की सुविधा हर नागरिक का अधिकार है, इसके लिए हर आवश्यक कदम उठाए जाएं।

‘आगरा मेट्रो और एयरपोर्ट परियोजनाओं में देरी न की जाए’

मुख्यमंत्री ने कहा कि आगरा मेट्रो और एयरपोर्ट परियोजनाओं में कतई देरी न की जाए, अगर कहीं समस्या आ रही है तो तत्काल बताएं, जरूरत पड़ी तो केंद्र सरकार से भी वार्ता की जाएगी। बीते दिनों जारी देश के स्मार्ट सिटीज की रैंकिंग में आगरा का स्थान पूरे देश में राष्ट्रीय स्तर पर तृतीय एवं उत्तर प्रदेश में घोषित स्मार्ट सिटी की सूची में प्रथम स्थान पर है।

मुख्यमंत्री जी ने इस पर हर्ष जाहिर करते हुए स्मार्ट सिटी परियोजना के कार्यों को शीघ्रता से पूर्ण करने के निर्देश दिए हैं। आगरा में कोविड मृत्यु-दर को कम करने के प्रयास तेज करने के निर्देश देते सर्विलांस पर जोर देने के लिए अधिकारियों को निर्देशित किया।

‘ब्रज तीर्थ विकास की परियोजनाओं में न हो विलंब’

मथुरा जनपद की समीक्षा करते हुए मुख्यमंत्री जी ने कहा कि ब्रज क्षेत्र भगवान श्रीकृष्ण की पुण्य लीलास्थली है। मथुरा, नंदगांव, बरसाने, वृंदावन में देश-दुनिया से आने वाले श्रद्धालुओं की सुविधा के दृष्टिगत आवश्यक व्यवस्था की जाए। जो परियोजना चल रही हैं, उसे समयबद्ध ढंग से पूरा किया जाए। इस संबंध में धनाभाव नहीं होने दिया जाएगा। सांसद हेमामालिनी जी ने छाता क्षेत्र में चीनी मिल, एक केंद्रीय विद्यालय और स्पोर्ट स्टेडियम के निर्माण को मांग की। जिस पर मुख्यमंत्री जी ने जन अपेक्षाओं के अनुरूप चीनी मिल निर्माण कराने के लिए कार्ययोजना बनाने के निर्देश दिए।

‘पैसा जिस मद का है, अनिवार्य रूप से उसी में खर्च करें’

मुख्यमंत्री ने कहा कि विकास का पैसा जनता की गाढ़ी कमाई का है। इसके पाई-पाई का सदुपयोग सुनिश्चत कराएं। पैसा जिस मद का है, अनिवार्य रूप से उसी में खर्च करें। अगर गड़बड़ी पाई गई तो वसूली भी कराई जाएगी। उन्होंने निर्देश दिए कि कार्यदायी संस्था के चयन से पूर्व उसकी क्षमता का आकलन जरूर करें। हर काम की समयबद्धता और गुणवत्ता सुनिश्चित करने के लिए एक नोडल अधिकारी नियुक्त करें और साप्ताहिक/पाक्षिक/मासिक समीक्षा करते रहें।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें