सरकार जनता को और पिछड़े वर्ग के लोगों को भुलावे में रखने का काम कर रही : बृजमोहन अग्रवाल

0
15

रायपुर। भाजपा के पूर्व मंत्री और वर्तमान विधायक बृजमोहन अग्रवाल ने कांग्रेस पर आरोप लगते हुए कहा कि सरकार पिछड़े वर्ग का वोट लेने के लिए लुभाने का कार्य कर रही है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार खाली पिछड़े वर्गों के वोट लेने की राजनीति कर रही है, पहले भी इन्होंने किया था तो हाईकोर्ट ने उस पर पूछा कि आप बताएं किस आधार पर यह आरक्षण देना चाहते हैं । अभी तक राज्य सरकार अगर चाहती हाई कोर्ट के सामने इसका आधार प्रस्तुत कर सकती थी ।

मीडिया को सोमवार को जारी बयान में उन्होंने कहा कि सरकार छत्तीसगढ़ की जनता को और पिछड़े वर्ग के लोगों को भुलावे में रखने का काम कर रही है । यह वास्तव में उनका कोई भला नहीं चाहते और पिछले 2 सालों में जब से कांग्रेस की सरकार आई है , तब से उन्होंने पिछड़े वर्ग के लिए कोई विशेष काम नहीं किया । वास्तव में पिछड़े वर्ग को आरक्षण देना चाहिए पर वह नहीं देना चाहते ।

उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ में 39 लाख किसान हैं उसमें से सिर्फ हम 14 – 16 लाख किसानों का धान ही खरीदते हैं और अगर बाकी किसानों ने भी रजिस्ट्रेशन कराना शुरू कर दिया और सरकार को धान बेचना शुरू कर दिया तो सरकार की पूरी योजना फेल हो जाएगी । छत्तीसगढ़ के किसान जितना भी धान पैदा करते हैं 15 क्विंटल प्रति एकड़ में धान खरीदने का नियम भारतीय जनता पार्टी सरकार ने बनाया, परंतु वर्तमान सरकार किसानों के रकबा कम कर अधिकारियों के माध्यम से गिरदावरी नहीं करवाना चाहती। बरसात के समय कभी गिरदावरी नहीं होती है।

पिछले वर्षों में किसानों की मेड काटकर रकबा कम किया गया । किसानों को दबाव पूर्वक कहा गया कि अपना 25 प्रतिशत रकबा कम करो सरेंडर कर दो। कलेक्टरों को निर्देश दिए गए की 25 प्रतिशत धान की खरीदी कम हो ऐसी व्यवस्था कीजिए । पहले तो बड़ी बड़ी घोषणा कर दी है, अब किसानों का धान खरीदने के नाम से भाग रही है सरकार । किसान इसका बदला लेगा, किसानों ने मांगा नहीं था। इन्होंने अपनी मर्जी से 25 सौ रुपये क्विंटल दिया। अब किसानों का धान खरीदने से सरकार भाग रही है।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें