मौका मिला, तो बिहार को विकसित राज्यों की श्रेणी में लाकर दम लेंगे : नीतीश

हमने सभी वर्गों के लिए किया काम

0
39

औरंगाबाद (आससे)। जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा है कि हमने समाज के सभी वर्ग के लोगों जरूरतमंदों और महिलाओं के कल्याण के लिए कई महत्वपूर्ण कदम उठाये हैं। जिससे बिहार तेजी से तरक्की के रास्ते पर बढ़ चला है। श्री कुमार शनिवार को औरंगाबाद जिले के नवीनगर के एनडीए प्रत्याशी वीरेन्द्र कुमार सिंह के पक्ष में चुनावी सभा को सम्बोधित करते हुए कहा कि समग्र विकास के लिए सभी वर्ग के लोगों पर ध्यान देना आवश्यक होता है। हमने अपने कार्यकाल में ग्रामीण तथा शहरी क्षेत्रों के अलावा इस बात पर विशेष ध्यान दिया है।

उन्होंने कहा कि समाज के वृद्धजनों के लिए भी कई महत्वपूर्ण निर्णय लिये गये हैं। उनके लिए हर शहर में वृद्धजन आवास बनये जाने की योजना है। श्री कुमार ने कहा हमने नि:स्वार्थ भाव से बिहार की सेवा की है। उसी सेवा के बदौलत आज अपनी पार्टी को एक और मौका देने का अनुरोध करने आया हूं। उन्होंने कहा यदि फिर आपने अवसर दिया तो हम सात निश्चय के माध्यम से बिहार को विकसित राज्यों की श्रेणी में लाकर ही रहेंगे।

श्री कुमार ने अतिपिछड़ा, महादलित, महिला एवं अल्पसंख्यक के बेहतरी के लिए किये गये कामों की चर्चा करते हुए कहा कि आपको यह जानकर गर्व होगा, बिहार के कई अच्छे कार्यों एवं योजनाओं को दूसरे राज्यों ने अपनाया है। मुख्यमंत्री ने कहा कि इस बार आपने अवसर दिया तो हर खेत पानी पहुंचाकर दम लूंगा। नयी टेक्नोलॉजी का जितना विस्तार हुआ है उससे सीधे लोगों को रोजगार से जोड़ा जायेगा।

हर जिले में संस्थान स्थापित करके युवाओं को तकनीकी प्रशिक्षण दिलायेंगे जिससे वे सिर्फ रोजगार ही नयी पायेंगे बल्कि अन्य लोगों को भी रोजगार प्रदान कर सकेंगे। उन्होंने कहा, रोजगार का मतलब सरकारी नौकरी नहीं। कोई भी सरकार सबके सरकारी नौकरी नहीं दे सकती है। हमने न्याय के साथ विकास किया है इसके लिए एक अवसर और दीजिए। बिहार की और बेहतरी एवं लोगों के चेहरे पर खुशहाली लाकर रहेंगे।

नवीनगर स्थित अनुग्रह नारायण सिंह स्टेडियम में मुख्यमंत्री के चुनावी सभा को जदयू के कार्यकारी अध्यक्ष आशिक चौधरी, सांसद महाबली सिंह, पूर्व विधान पार्षद रणवीर नंदन एवं स्थानीय प्रत्याशी वीरेन्द्र कुमार सिंह ने सम्बोधित किया।

हर आठ पंचायत पर होगा पशु अस्पताल : सीएम

डिहरी-ऑन-सोन (आससे)। प्रदेश के हर  शहर से गांव तक सडक का निर्माण कर उनके जीवन स्तर को ऊंचा किया गया साथ ही अब अब किसान के खेतों तक पानी पहुंचाने की योजना बनी है।जिस पर  काम भी शुरू हो गया है। मैं अपने शासन काल में समाज के किसी का भी उपेक्षा नहीं किया। हमारी इच्छा सेवा करना हैं। यही धर्म है।

उक्त बातें शनिवार को जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष सह बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने नोखा विधानसभा क्षेत्र के राजपुर स्थित शौणडीक उच्च विद्यालय के मैदान में एक चुनावी सभा को संबोधित करते हुए कहा। मुख्यमंत्री ने बिना किसी के नाम लिए कहा कि हमारे पहले बिहार में अपहरण उद्योग चल रहा था। व्यवसायी व डाक्टर बिहार छोड़ भाग रहे थे। लोग शाम को घर से निकलने से डरते थे। जब मैं आया तो कानून का राज्य कायम कर लोगों को उस भय से मुक्त कराने का काम किया।

बेटियों को सायकिल व पौशाक दे सडक पर भय मुक्त चलाया। पुलिस मे, पंचायत व निकाय चुनाव में महिला को आरक्षण दे महिलाओं को सशक्त बनाने का काम किया। इसी प्रकार दलित महादलित अतिपिछड़ा को पंचायत में आरक्षण देकर मुख्य धारा से जोडऩे का काम किया। जल जीवन हरियाली की चर्चा देश में ही नहीं पुरी दुनिया में हो रही है। लेकिन बिहार के कुछ लोगों कुछ दिखाई ही नहीं दे रहा है।कौशल युवा कार्य क्रम के तहत दस लाख युवाओं को कम्प्यूटर की शिक्षा दी गई। अब युवाओं को बहुत जल्द ही नई टेक्नोलॉजी की शिक्षा दी जाएगी। कुछ लोग माल कमाने के लिए सत्ता में आने को उतावला हैं। विकास के लिए नहीं।

मुख्यमंत्री ने जदयू प्रत्याशी नागेन्द्र चंद्रवंशी को जीताने की लोगों से अपील किया। सभा को कार्यकारी अध्यक्ष अशोक चौधरी, सांसद महाबली सिह। नन्द कुमार सिंह सहित अन्य ने सम्बोधित किया। जबकि अध्यक्षता भाजपा नेता शशिभूषण प्रसाद तथा संचालन जदयू जिलाध्यक्ष अरुणा देवी ने किया।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें