अलीगढ में धमाकाः शव को सडक पर रखकर लगाया जाम, हंगामा

0
25
पला साहिबाबाद में शव को सडक पर रखकर जाम लगाते लोग। PHOTO-- AAJ

अलीगढ। देहलीगेट इलाके की बिल्डिंग में हुए धमाके के बाद चार लोगों की मौत हो गई, जबकि कई लोग घायल हो गए। बुधवार को शवों का पोस्टमार्टम होने के बाद उनके परिजनों के सुपुर्द कर दिया। इसमें एक पला साहिबाबाद इलाके का युवक भी शामिल था। शव जैसे ही घर पहुंचा परिजनों और आस-पास के लोगों ने पुलिस चौकी के पास शव रखकर जाम लगा दिया। लोगों की मांग थी कि मृतक की बेटी की शादी के लिए आर्थिक मदद और परिवार के एक सदस्य को नौकरी दी जाए। मामले की जानकारी मिलते ही इलाका पुलिस मौके पर पहुंच गई और लोगों को समझाकर शांत किया। उधर, इंस्पेक्टर देहलीगेट अशीष कुमार ने बताया कि बुधवार शाम को इस बम धमाके में घायल भीमा निवासी कैलाश गली देहलीगेट की मेडिकल में मौत हो गई। अब तक इस हादसे में मृतकों की संख्या पांच हो गई है।
देहलीगेट चौराहा के पास एक बिल्डिंग में मंगलवार दोपहर बाद जोरदार धमाका हुआ। धमाके के साथ ही बिल्डिंग चंद देर में ही मलवे के ढेर में तब्दील हो गई। इस दुर्घटना में चार लोगों की मौत हो गई और कई लोग घायल हो गए। पुलिस और प्रशासनिक अफसरों ने तत्काल लोगों की मदद से राहत बचाव कार्य तेजी से शुरू कर दिया। घायलों को इलाज के लिए अस्पताल और मेडिकल पहुंचाया। लगातार डाक्टरों की टीमें घायलों का इलाज करने में जुटी हुई थी इसके बाद भी चार लोगो को बचाया नहीं जा सका। पोस्टमार्टम के बाद शवों को उनके परिजनों के सुपुर्द कर दिया। मृतकों में से पला साहिबाबाद सासनीगेट इलाके का पंकज उर्फ तिकौनी भी था। शव जैसे ही घर पहुंचा लोगों ने शव को पुलिस चौकी के पास रखकर सडक पर जाम लगा दिया। लोगों ने मांग की कि मृतक की एक बेटी शादी योग्य है, उसकी शादी के लिए आर्थिक मदद और परिवार के एक सदस्य को नौकरी दी जाए। इस मामले की जानकारी मिलते ही सिटी मजिस्ट्रेट और सासनीगेट पुलिस मौके पर पहुंच गई। उन्होंने लोगों को समझाकर शांत किया और जाम खुलवाया। पुलिस ने परिजनों से कहा कि वह शव का दाहसंस्कार कर दें क्योंकि शव 24 घंटे पुराना हो चुका है। इसके बाद परिजन शव को दाह संस्कार करने के लिए ले गए।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें