12वीं के छात्र ने सुसाइड किया:भोपाल में रहने वाली मौसी ने लड़के को 16 साल पहले बहन से गोद लिया था

0
35

12वीं के छात्र ने सुसाइड किया:भोपाल में रहने वाली मौसी ने लड़के को 16 साल पहले बहन से गोद लिया था; कमरे में छोड़कर टहलने गई थीं, एक घंटे बाद लौटी तो फंदे पर लटका मिला
 

पुलिस को कोई सुसाइड नोट नहीं मिला है। ऐसे में सुसाइड के कारणों का पता नहीं चल पाया है। – प्रतीकात्मक फोटो
सुसाइड के कारणों का खुलासा नहीं हो पाया
दुपट्‌टे से फंखे से फांसी लगाकर खुदकुशी की

भोपाल के कटारा हिल्स इलाके में 12वीं के एक छात्र ने फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली। घटना के दौरान उसकी मौसी टहलने गई थी। सुसाइड नोट नहीं मिलने के कारण आत्महत्या के कारणों का पता नहीं चल पाया है। उसे 16 साल पहले उसकी मौसी ने गोद लिया था।

पुलिस के अनुसार, कटारा हिल्स के सागर गोल्डन पाम में रहने वाले अनिल सिंह ट्यूशन टीचर हैं। वे साइड में दूसरे काम भी करते रहते हैं। उनके साथ उनका साडू भाई नारायण सिंह का 20 वर्षीय बेटा रविंद्र प्रसाद सिंह भी रहता था। उन्होंने उसे 16 साल पहले गोद लिया था। वह कक्षा 12वीं में पढ़ाई कर रहा था। मामले की जांच कर रहे पुलिस अधिकारी केतन गुप्ता ने बताया कि अनिल किसी काम से पिपरिया गए हुए थे। बुधवार शाम करीब साढ़े 7 बजे उनकी पत्नी रोज की तरह कॉलोनी में टहलने चली गईं।

वे रविंद्र को उसके कमरे में छोड़कर गई थीं। एक घंटे बाद घर पर लौटने पर उन्होंने रविंद्र को आवाज लगाई, लेकिन उसका कोई जवाब नहीं आया। वे उसे देखने उसके कमरे में पहुंची अंदर का दृश्य देख गिर पड़ी। उनकी चीख सुनकर आसपास के फ्लैट के लोग भी वहां पहुंच गए। उन्होंने रविंद्र को फंदे से नीचे उतारा। उसने दुपट्‌टे से फांसी लगाई थी। घटना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने शव पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

सुबह किया गया पोस्टमार्टम

घटना की सूचना मिलते ही भिंड से परिवार के अन्य सदस्य भी पहुंच गए। परिजन की मौजूदगी में रविंद्र का पोस्टमार्टम कराया गया। पीएम के बाद परिजन अंतिम संस्कार के लिए उसका शव लेकर भिंड के लिए रवाना हो गए।

4 साल की उम्र में लिया था गोद

परिजनों ने बताया कि रविंद्र जब 4 साल का था, जब अनिल ने उसे गोद ले लिया था। उनके घर में उनकी पत्नी, वे और रविंद्र ही थे। थ्री बीएचके फ्लैट में रविंद्र को अलग से कमरा दिया गया था। उसने उसी कमरे में फांसी लगाई। हालांकि न तो पुलिस को सुसाइड नोट मिला है और न ही परिजनों के बयान हो पाएं हैं। उसके पास से पुलिस ने एक की पैड वाला मोबाइल फोन मिला है। जिसे पुलिस ने जब्त कर लिया है। अब तक सुसाइड के कारणों का पता नहीं चल पाया है।

असली माता-पिता से भी हो सकती है पूछताछ

पुलिस ने बताया कि मामले में बच्चे की मानसिक स्थिति का पता लगाना जरूरी है। वह करीब 4 साल की उम्र में अपने मौसा-मौसी के साथ रहने आ गया था। 16 साल से वह उन्हीं के साथ रह रहा था। ऐसे में उसके असल माता-पिता से भी पूछताछ की जाएगी। इसके अलावा उसके दोस्तों से भी पुलिस पूछताछ करेगी।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें