उदयीमान सूर्य को अर्घ्य देने के साथ ही छठ महापर्व का समापन

0
55

पटना। चार दिवसीय चलने वाले महापर्व छठ का आज अंतिम दिन है। सुबह उदयीमान सूर्य को अर्घ्य देने के साथ ही छठ महापर्व का समापन हो गया है। व्रती सुबह के अर्घ्य के लिए गंगा घाटों और तालाबों का रुख करने लगे थे। सुबह से ही गंगा घाटों पर चहल-पहल देखी जा रही थी हालांकि इस बार बड़ी तादाद में लोगों ने अपने घरों के अंदर ही छठ पूजा की।

कोरोना को लेकर बहुतों ने अपने अपने घरों के छत पर ही अर्घ्य देकर भगवान भास्कर को नमन किया। प्रशासन ने गंगा घाट तक गाड़ियों का परिचालन यह सोचकर बंद रखा था कि इससे व्रतियों की भीड़ कम होगी लेकिन इसका बहुत ज्यादा असर नहीं हुआ।

हालांकि प्रशासन की तरफ से गंगा घाटों पर बेहतर इंतजाम किए गए हैं। पटना के पार्कों, तालाबों पर भी छठ के लिए व्यापक इंतजाम किए गए थे। बड़ी तादाद ऐसे लोगों की रही जिन्होंने घरों की छतों पर पूरी तैयारी के साथ भगवान भास्कर को अर्घ्य दिया।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें