चंदौली: डोर टू डोर वितरण होगाा बच्चों को पोषाहार

0
23

सकलडीहा। स्थानीय तहसील सभागार में गुरूवार को शासन के निर्देश पर बच्चों में बाल पोषाहार वितरण के लिए बाल विकास विभाग के कर्मचारी आगनबाड़ी केन्द्र के अलावा डोर टू डोर पहुंच कर गेंहूं, चावल ,दाल, पाउडर दूध और घी वितरण करने के लिए कर्मचारियों को प्रशिक्षण दिया गया। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मिशन शक्ति अभियान और महिला आत्मनिर्भर योजना के तहत प्रत्येक गांव के आगनबाड़ी केन्द्रों पर समूह की महिला और आगनबाड़ी कार्यकत्री के माध्यम से ड्राई राशन वितरण करने की अभियान चलाया गया है। कुपोषित बच्चों को स्वास्थ्य लाभ दिलाने के लिए शासन के निर्देश पर छ: माह से तीन साल के बच्चों को एक किलो चावल, डेढ़ किलो गेंहू और 750 ग्राम दाल, इसके अलावा हर तीसरे माह में 450 ग्राम देशी घी और 400 ग्राम स्किम्ड दूध (पाउडर दूध) दिया जायेगा। वहीं तीन साल से 6 साल के बच्चों को डेढ़ किलों गेहू, एक किलो चावल मिलेगा। हर तीसरे माह में पाउडर दूध दिया जायेगा। गर्भवती व स्तनपान करने वाली महिलाये एवं किशोरी (11 से 14 वर्ष ) को एक किलो चावल, गेहूं दो किलो और 750 ग्राम दाल देना है। इसके अलावा हर तीसरे माह में देशी घी 450 ग्राम व पाउडर दूध 750 ग्राम देना है। अतिकुपोषित बच्चे 6 माह से 6 वर्ष के बच्चों को चावल डेढ़ किलो, गेहूं ढ़ाई किलो और दाल 500 ग्राम दिया जायेगा। इसके अलावा देशी घी हर तीसरे माह में 900 ग्राम व पाउडर दूध 750 ग्राम दिया जायेगा। इस बाबत एसडीएम प्रदीप कुमार ने बताया कि हर हाल में समूह की महिला और आगनबाड़ी कार्यकत्री डोर टू डोर वितरण सुनिश्चित कराने का कड़ा निर्देश दिया गया है।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें