सुशांत सिंह राजपूत मामला: ED दफ्तर से निकलीं रिया चक्रवर्ती, करीब 9 घंटे तक चली पूछताछ

0
17

मुंबई: सुशांत सिंह राजपूत मौत मामले से जुड़े मनी लॉन्ड्रिंग केस में अभिनेत्री रिया चक्रवर्ती से ईडी ने करीब 9 घंटे पूछताछ की. इस दौरान रिया प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) के कई सवालों के जवाब नहीं दे पाईं. रिया मुंबई स्थित ईडी दफ्तर अपने भाई शौविक से साथ आई थीं.

रिया चकवर्ती की कारोबारी प्रबंधक श्रुति मोदी भी एजेंसी के सामने पेश हुईं. श्रुति मोदी सुशांत सिंह राजपूत के लिए भी काम करती थीं. अधिकारियों ने बताया कि चक्रवर्ती और मोदी का बयान धन शोधन रोकथाम अधिनियम के तहत दर्ज किया गया.

उन्होंने बताया कि राजपूत के दोस्त और उनके साथ रहने वाले सिद्धार्थ पिठानी को भी धन शोधन मामले में प्रवर्तन निदेशालय ने शनिवार को पेश होने के लिए तलब किया है. इन्हें भी अभिनेता के पिता द्वारा बिहार पुलिस में दर्ज कराई गई शिकायत के संबंध में तलब किया गया है.

ऐसा कहा जा रहा है कि आईटी पेशेवर पिठानी एक साल से राजपूत के साथ रह रहे थे. वह इस मामले में मुंबई पुलिस द्वारा दुर्घटनावश मौत रिपोर्ट (एडीआर) जांच में अपना बयान पुलिस में दर्ज करा चुके हैं.

सुशांत राजपूत के पिता के के सिंह ने अभिनेत्री और उनके कुछ रिश्तेदारों के खिलाफ पटना पुलिस में 25 जुलाई को शिकायत दर्ज कराई थी. उन्होंने उन पर धोखाधड़ी करने और अभिनेता को आत्महत्या के लिए उकसाने का आरोप लगाया था.

रिया से जुड़ी शहर की खार क्षेत्र की संपत्ति की भी जांच प्रवर्तन निदेशालय ने शुरू की है. आज एक टीम यहां पहुंची. एजेंसी राजपूत के चार्टर्ड अकाउंटेंट (सीए) संदीप श्रीधर से और उनके गृह प्रबंधक और कर्मचारी सैमुअल मिरांडा से दो बार पूछताछ कर चुकी है.

राजपूत के पिता ने अपनी शिकायत में आरोप लगाया था कि मिरांडा की भर्ती चक्रवर्ती ने उनके बेटे द्वारा भर्ती किए गए कर्मचारी को हटाकर की थी. निदेशालय चक्रवर्ती के चार्टर्ड अकाउंटेंट रितेश शाह को भी पूछताछ के लिए तलब कर चुकी है.

राजपूत के 74 वर्षीय पिता ने चक्रवर्ती, उनके माता-पिता, उनके भाई शौविक, मिरांडा, मोदी और अज्ञात लोगों पर धोखाधड़ी और उनके बेटे को आत्महत्या के लिए उकसाने का मामला दर्ज कराया था.

राजपूत के मामले में फिर से प्राथमिकी दर्ज करने के बाद सीबीआई ने बिहार पुलिस से जांच बुधवार को अपने हाथ में ले ली. एजेंसी ने चक्रवर्ती और उसके परिवार के खिलाफ कथित तौर पर आपराधिक षड्यंत्र और आत्महत्या के लिए उकसाने की खातिर पटना पुलिस द्वारा दर्ज प्राथमिकी में फिर से उन्ही आरोपियों को नामजद किया है.

राजपूत के पिता ने अपने बेटे के बैंक खाते में वित्तीय अनियमितता का भी आरोप लगाया था. उन्होंने अपनी शिकायत में आरोप लगाया था कि राजपूत के बैंक खाते से 15 करोड़ रुपये एक साल में वैसे लोगों के बैंक खाते में गए जो अभिनेता से नहीं जुड़े हुए थे.

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें