कोरोना के दौर में वर्चुअल होगा दिल्ली बुक फेयर

0
41
????????????????????????????????????

30-31 अक्टूबर को लगेगा पुस्तक मेला
-आज समाचार सेवा-
नई दिल्ली, 26 अक्टूबर। फेडरेशन ऑफ इंडियन पब्लिशर्स की ओर से प्रायोजित दिल्ली बुक फेयर पुस्तक मेले का आयोजन प्रगति ई प्लेटफॉर्म पर किया जाएगा। इसके मुख्य प्रायोजक श्कराडी पाथ लर्निंगश् की ओर से किया जाएगा । दिल्ली पुस्तक मेले का 26 वां संस्करण भारत के वाणिज्य मंत्रालय द्वारा प्रमुख निर्यात परिषद, कैपेक्सिल द्वारा सह-आयोजित किया जाएगा।दिल्ली पुस्तक मेले में 100 से ज्यादा एग्जिबिटर्स, 5000 से ज्यादा पुस्तकें और 20 से ज्यादा वेबिनार होंगे।
आज प्रेस क्लब में एक संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए डॉ. अशोक गुप्ता, महासचिव, (फेडरेशन ऑफ इंडियन पब्लिशर )ने कहा कि महामारी के प्रकोप के चलते राजधानी के प्रगति मैदान में हर वर्ष लगने वाला दिल्ली पुस्तक मेला इस साल प्रत्यक्ष रूप से आयोजित नहीं किया जाएगा। इस साल दिल्ली पुस्तक मेले को वर्चुअल रूप से आयोजित करने की योजना बनाई गई है। दिल्ली बुक फेयर का आयोजन फेडरेशन ऑफ इंडियन पब्लिशर्स की ओर से 30 और 31 अक्टूबर को किया जाएगा। कराडी पाथ लर्निंग की ओर से प्रायोजित इस डिजिटल बुक फेयर को प्रगति प्लेटफॉर्म पर होस्ट किया जाएगा। भारत सरकार के डिजिटल इंडिया विजन से तालमेल बनाए रखते हुए फेडरेशन ऑफ इंडियन पब्लिशर्स ने इस वर्ष सबकी सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए इवेंट को डिजिटल रूप से आयोजित करने का फैसला किया है। गौरतलब है कि इस वर्ष कोरोना के कारण प्रत्यक्ष रूप से किसी प्रदर्शनी या मेले का आयोजन नहीं किया जा रहा है।
डिजिटल फॉर्मेट में भव्य रूप से आयोजित होने वाले इस बुक फेयर में प्रकाशकों के साथ लेखक, वितरक और किताबों के शौकीन लोग एक ही प्लेटफॉर्म पर इकट्ठा होंगे। आयोजकों का मानना है कि इस बार पुस्तक मेले में 100 से अधिक एग्जिबिटर्स के साथ 5000 से ज्यादा पुस्तकें लोगों के सामने होंगे। इसमें 20 से अधिक वेबिनार होंगे। बुक फेयर में शामिल होने के लिए आप मअमदजे/पिचवदसपदम.वतह पर संपर्क कर सकते हैं। गौरतलब है कि दिल्ली पुस्तक मेले का आयोजन 1995 में शुरू हुआ था।
इस बार पुस्तक मेले के लिए एक डेडिकेटेड ई-कॉमर्स वेबसाइट बनाई गई है, जिसमें कई प्रकाशकों की पुस्तकें एक ही प्लेटफॉर्म पर नजर आएंगी और दर्शक केवल एक क्लिक से अपनी मनपसंद किताब खरीद सकेंगे।
कपिल गुप्ता, सीईओ ( प्रगति ई) ने कहा कि ऑनलाइन लिटरेचर फेस्टिवल प्रगति विचार का आयोजन भी इस बुक फेयर में किया जा रहा है जिसमे पुस्तक प्रकाशन समुदाय से जुड़े हुवे मुद्दों के साथ-साथ विभिन्न सामाजिक पहलुओं पर विचारकों और लेखकों के विचार सुनने और उनपर बातचीत करने का अवसर मिलेगा। इसके अलावा बच्चों के लिये पोगो टीवी और कार्टून नेटवर्क द्वारा आयोजित पेंटिंग कम्पटीशन और कई अन्य विद्यालयों द्वारा आयोजित होने वाले अलग अलग इवेंट्स इस वर्चुअल बुक फेयर का प्रमुख आकर्षण होंगे।
इस बार के वर्चुअल दिल्ली बुक फेयर में एग्जिबिटर्स और विजिटर्स के लिए सहरद की कोई सीमाएं या बंदिश नहीं रहेगी। इस विजन को ध्यान में रखते हुए फेडरेशन ऑफ इंडियन पब्लिशर्स ने अंतरराष्ट्रीय स्तर पर पुस्तक मेला आयोजित करने वाली कई संस्थाओं, जैसे सिंगापुर बुक फेयर, शारजाह इंटरनेशनल बुक फेयर, फ्रैंकफर्ट बुकमीज और नाइजीरिया इंटरनेशनल बुक फेयर के आयोजकों को दिल्ली बुक फेयर का हिस्सा बनने के लिए आमंत्रित किया है।
30-31 अक्टूबर को आयोजित होने वाले दिल्ली पुस्तक मेले की मेजबानी एक नए और टेक ओरिएंटेड प्लेटफॉर्म प्रगति की ओर से की जाएगी। इस प्लेटफॉर्म पर छोटे से लेकर बड़े पैमाने पर तरह-तरह की इवेंट्स का आयोजन वर्चुअल या डिजिटल रूप में होता है। इस वर्ष एग्जिबिटर्स दुनिया भर के उपभोक्ताओं के सामने इस डिजिटल प्लेटफॉर्म पर तरह-तरह की पुस्तकें प्रदर्शित करेंगे, जिसे दर्शक माउस के एक क्लिक से खरीद सकेंगे। इसमें ज्ञानवर्धक बेबिनार और बुक्स की रीडिंग के सेशन के अलावा लाइव चैट से विजिटर्स से सीधे जुड़ा जा सकेगा।
(समाप्त…/)

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें