आफत का इशारा, 9 सहित एक ही दिन मिले रिकॉर्ड 22 संक्रमित

4
445

9 पॉजिटिव के साथ एक ही दिन मिले रिकॉर्ड 22 मरीज, हरकत में आया प्रशासन

ज्ञानपुर/भदोही। कोविड-19 मरीजों के लिहाज से बनाए गए जोन में अभी कालीन नगरी भदोही ‘ऑरेंज जोन’ में है। लेकिन अब फूट रहे कोरोना बम को देखकर लगता है कि आफत का इशारा हो गया है और खतरे की घंटी बज गई है।

शुक्रवार की रात जनपद के 9 और संदिग्धों की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आई है। जहां शुक्रवार की सुबह 13 लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी, वहीं देर शाम 9 और कोरोना संक्रमित मरीज पाए गए। अतः एक ही दिन पहली बार जनपद में रिकॉर्ड 22 लोग कोविड-19 के मरीज मिले हैं। जिसके बाद प्रशासन सकते में आ गया है, तो रहवासियों में हड़कंप मच गया है। जिले में कुल संक्रमितों की संख्या बढ़कर 67 हो गई है। नौ संक्रमितों में जिला अस्पताल का एक स्टॉफ व अकेले सुरियावां क्षेत्र से 6 संक्रमित मरीज मिले हैं। जिससे क्षेत्र में दहशत का माहौल व्याप्त हो गया है।
पहली रिपोर्ट जिला अस्पताल में कार्यरत एक्सरे टेक्नीशियन की है। 59 वर्षीय स्वास्थ्य का सैंपल 30 मई को लिया गया था। दूसरी रिपोर्ट सुरियांवा ब्लाक के छनौरा गांव निवासी 21 वर्षीय युवक की आई है। वह 29 मई को मुंबई से घर आया था। तीसरी रिपोर्ट भी सुरियावां के छनौरा गांव की है। मुंबई से 29 मई को घर आया 17 वर्षीय युवक कोरोना पॉजिटिव मिला है। रात में आई चौथी रिपोर्ट सुरियावां ब्लाक के लालीपुर गांव से है। 29 मई को मुंबई से लौटा 45 वर्ष प्रवासी संक्रमित पाया गया है। पांचवी रिपोर्ट डीघ ब्लॉक क्षेत्र के मंगापट्टी गांव से है। मुंबई से 30 मई को गांव आया 40 वर्षीय प्रवासी संक्रमित पाया गया है। छठवीं पाजिटिव आई रिपोर्ट सुरियावां ब्लॉक के कुसौड़ा गांव का निवासी 30 वर्षीय मुंबई से आया प्रवासी की है। सातवीं रिपोर्ट भी सुरियावां ब्लाक क्षेत्र से ही है। उदयकरनपुर गांव निवासी 44 वर्षीय अधेड़ कोविड-19 से संक्रमित मिला है। वह 30 मई को मुंबई से घर लौटा था। बता दें कि उदयकरनपुर में पहले भी संक्रमित मिल चुके हैं। आठवीं रिपोर्ट भी सुरियावां ब्लॉक से ही है। हरदुआ गांव निवासी 21 वर्षीय युवक कोरोनावायरस से ग्रसित मिला है। वह 1 जून को मुंबई से घर आया था। नौवीं रिपोर्ट 19 वर्षीय युवती की है। जो ज्ञानपुर ब्लॉक के भिखारी पुर गांव की निवासी है। वह मुंबई से 1 जून को घर आई थी। बता दें कि आठवें व नौवें मरीज की 1 जून को सैंपलिंग हुई थी। तथा शेष सभी 6 का 30 मई को सैंपल भेजा गया था।
मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ लक्ष्मी सिंह के अनुसार स्वास्थ्य महकमा सभी संक्रमित मिले मरीजों को कोविड-19 केयर सेंटर मिर्जापुर भेज रहा है। तो प्रशासन गांव को हॉटस्पॉट घोषित कर सील करा रहा है।

4 टिप्पणी

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें