अयोध्या: बॉलीवुड कलाकारों के हुनर से सजेगा रामलीला का मंच, रवि किशन भरत तो बिंदु दारा सिंह बनेंगे हनुमान

0
13

अयोध्या. अयोध्या में वर्चुअल रामलीला की आज से शुरुआत होनी है. शाम 6:00 बजे वैदिक रीति रिवाज के साथ पूजन अर्चन होगा. इस पूजन कार्यक्रम में भाजपा के सांसद प्रवेश सिंह वर्मा अपनी पत्नी के साथ मुख्य यजमान की भूमिका में रहेंगे और भगवान राम की तीर्थ स्थलों से एकत्रित मिट्टी से बनी मूर्ति की स्थापना की जाएगी. सूबे के पर्यटन संस्कृति मंत्री नीलकंठ तिवारी वर्चुअल रामलीला का शाम को 7:00 बजे उद्घाटन करेंगे. रामलीला में फिल्म अभिनेता मनोज तिवारी, रवि किशन, असरानी, रजा मुराद, बिंदु दारा सिंह, शाहबाज खान जैसे बड़े फिल्म अभिनेता रामायण के विभिन्न पात्रों पर अभिनय करेंगे. इस रामलीला में दर्शकों को आने की अनुमति नहीं रहेगी. इसका सीधा प्रसारण दूरदर्शन के माध्यम से किया जाएगा. साथ ही सोशल मीडिया और यूट्यूब पर भी इसका प्रसारण होगा. आज सुबह रामलीला के मंच पर रामलीला के कलाकारों ने गणेश वंदना की रिहर्सल की.

संस्कृति मंत्री करेंगे उद्धाटन

कार्यक्रम के आयोजक अयोध्या की रामलीला के अध्यक्ष सुभाष मलिक ने बताया कि तैयारियां पूरी कर ली गई हैं. कलाकार रिहर्सल कर रहे हैं. शाम को 7:00 बजे संस्कृत मंत्री नीलकंठ तिवारी रामलीला का उद्घाटन करेंगे. रामलीला 17 अक्टूबर से 25 अक्टूबर तक होगी.

इस रामलीला की खास बात यह होगी कि इसमें अभिनय प्रस्तुत करने वाले लोग बॉलीवुड के नामचीन हस्तियां हैं और पहली बार अयोध्या की कोई रामलीला हो रही, जिसमें फिल्मी कलाकार किरदार निभा रहे हैं. मनोज तिवारी अंगद की भूमिका में नजर आएंगे, रवि किशन भरत की भूमिका में नजर आएंगे, विंदू दारा सिंह हनुमान का रोल करेंगे.

भागवान राम की मूर्ति की स्थापना की जाएगी

साथ ही रामलीला में भगवान राम की मूर्ति की स्थापना की जाएगी. यह मूर्ति की खास बात यह है कि जहां जहां पर भगवान राम के चरण पड़े थे, उन जगहों से मिट्टी एकत्रित करके मूर्ति का निर्माण कराया गया है. इस मूर्ति की स्थापना आज होगी और समापन के दिनों में इस मूर्ति का विसर्जन भी होगा.

100 फूट का होगा रावण

रामलीला में प्रथम दिना आज रावण के अहंकार का दृश्य प्रस्तुत किया जाएगा. शाहबाज खान रावण की भूमिका में रहेंगे. साथी समापन के दिन रावण दहन किया जाएगा. इस दरमियान लगभग 100 फुट का रावण बनवाया जाएगा और इसको इको फ्रेंडली बनवाया जाएगा, जिससे कि प्रदूषण कम हो 23 अक्टूबर को रावण बन करके अयोध्या पहुंचेगा.

माता सीता का रोल करने वाली कविता जोशी के लिए उनकी पोशाक दिल्ली से चली है, तो माता सीता के जेवरात अयोध्या में विशेष तरीके से बनवाए गए हैं. साथ ही रावण की ड्रेस एक प्रमुख श्रीलंका से बनकर आई है.

इस रामलीला में हर कलाकार को रामायण के पात्र पर अभिनय करने वाले आवश्यक वस्तुओं के लिए स्पेशल तैयारियां की गई हैं. भगवान राम का धनुष कुरुक्षेत्र से बनकर आया है और भगवान राम की ड्रेस उनके ससुराल जनकपुर से बनकर आई है.

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें