भोपाल की आबकारी टीम ने विदेशी ब्रांड की शराब तस्करी का एक बड़ा खुलासा किया

0
27

विदेशी शराब की तस्करी:भोपाल की आबकारी टीम ने विदेशी ब्रांड की शराब तस्करी का एक बड़ा खुलासा किया, मिनी ट्रक में चोर कैबिन में छिपाकर ले जा रहे थे शराबी
 

भोपाल की आबकारी टीम को शराब जब्त करने में काफी मशक्कत करना पड़ा।
मिनी ट्रक मैं गुप्त कैबिन बनाकर उसमें छिपाकर पेटियां रखीं गई थीं
सिर्फ ड्राइवर तक पहुंच पाई टीम, सप्लायार को पता नहीं चल सका

भोपाल की आबकारी टीम ने विदेशी ब्रांड की शराब तस्करी का एक बड़ा खुलासा किया है। आरोपी मिनी ट्रक में चोर कैबिन में छिपाकर उसकी तस्करी कर रहे थे। टीम अब तक इस मामले में सिर्फ 65 वर्षीय एक ड्राइवर को ही गिरफ्तार कर पाई है, हालांकि माल सप्लायरों का पता नहीं चल पाया है। पकड़ी गई 85 पेटी शराब की कीमत 20 लाख रुपए बताई जाती है।

आबकारी टीम ने इस मामले में ड्राइवर के खिलाफ मामला दर्ज किया है।

भोपाल आबकारी की टीम ने बुधवार रात मुखबिर की सूचना पर पीछा कर विदिशा से आने वाले मिनी ट्रक क्रमांक एमएच 48 एचबी 4825 को भानपुर ओवर ब्रिज के पास रुकने पर मजबूर कर दिया। पहले तो टीम को ट्रक में शराब होने की सूचना गलत लगी, क्योंकि पीछे कुछ नजर नहीं आ रहा था। ट्रक पूरी तरह खाली नजर आ रहा था। इसके बाद जब उसकी जांच की गई, तो अंदर एक चोर कैबिन होने की पुष्टि हुई। अधिकारियों कैबिन के अंदर चोर गेट से पहुंच पाए। इसमें बड़ी मात्रा में शराब की पेटियां रखी हुईं।

10% हिस्से में बनाया था कैबिन

टीम को यह कैबिन पीछे लोडिंग भाग के 10 प्रतिशत हिस्से में बना मिला। ड्राइवर जुल्फिकार पुत्र ताज अली चौधरी ने बताया कि माल बीच में लादा गया था। उसे विनोद ने इसे भिजवाया था। भोपाल में किसी राजा नाम के व्यक्ति तक पहुंचाना था। पुलिस ने कुल 765 लीटर शराब जब्त की। आरोपी से जब्त शराब एवं वाहन पर मध्यप्रदेश आबकारी अधिनियम 1915 (संशोधित 2000 ) की धारा 34 (1) व (2) का अपराध पंजीबद्ध किया गया है।

सिर्फ ड्राइवर ही पकड़ा जा सका

इधर पूछताछ में अब तक सिर्फ ड्राइवर ही पकड़ा जा सका। पुलिस का कहना है कि बयानों की तफ्तीश की जा रही है। उसके अनुसार ही आगे की कार्रवाई की जाएगी। अब शराब रीवा से आई या फिर बीच में कहीं लोड की गई। इसकी जांच की जाएगी।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें