सिलाव: 17 सूत्री मांगों को लेकर अनिश्चितकालीन हड़ताल पर गयी आशा कर्मी

0
22

सिलाव (नालंदा) (संसू)। बिहार राज्य आशा संघ के आह्वान पर अपनी 17 सूत्री मांगों को लेकर बुधवार के दिन से सिलाव के सभी 105 आशा कर्मी अनिश्चित कालीन हड़ताल पर चले गए। प्रखंड आशा संघ अध्यक्ष सरिता कुमारी ने इस मामले में पीएचसी चिकित्सा प्रभारी को बुधवार को ज्ञापन सौंपते हुए बताया कि आशा के साथ लगातार सरकार एवं स्वास्थ्य विभाग के द्वारा दोहरी नीति अपनाई जा रही है।

हम लोग का मानदेय भी भुगतान नहीं किया गया है, इसके अलावा अन्य कार्यों के लिए आवंटित राशि नहीं दी जाती है। सिलाव आशा संघ कार्यकर्ता का आरोप है की सिलाव के स्वास्थ्य प्रबंधक के द्वारा हमलोगों को मानदेय का भुगतान नहीं किया गया है। जबकि यही स्वास्थ्य प्रबंधक राजगीर अनुमंडल अस्पताल में पदस्थापित थे तो वहां पर आशा का मानदेय का भुगतान कर रहे थे। इन लोगों ने यह भी आरोप लगाया कि कोविड-19 के तहत हम लोगों ने दिन रात लोगों की सेवा की, लेकिन कोविड-19 के तहत मिलने वाली राशि भी नहीं दिया गया है।

आखिरकार हम लोग अपने संघ के आवाहन पर अनिश्चितकालीन हड़ताल पर हैं और जब तक हमारी मांग पूरा नहीं होती है, तब तक हड़ताल जारी रहेगा। इस मौके पर पूनम कुमारी, कुसुम देवी, विमला कुमारी, किरण कुमारी,गीता कुमारी, सरिता कुमारी, आभा कुमारी, रेखा कुमारी, मंजू कुमारी, सुनीता कुमारी, कनक लता, रानी कुमारी, शोभा देवी, शीला कुमारी, डिंपल सिन्हा सहित अन्य आशा कार्यकर्ता मौजूद थे।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें