(लव जिहाद) लड़की के साथ ले गया जेवर और तीन लाख की एफडी, मुकदमा

0
11
  • कुली बाजार में सामने आया लव जिहाद का मामला
  • लड़के का दोस्त भी बना मददगार, सभी के मोबाइल बंद
    कानपुर : शहर में लव जिहाद का एक ताजा मामला प्रकाश में आया है। दो मुस्लिम युवक हिंदू समुदाय की एक युवती को प्रेमजाल में फंसाकर भगा ले गए। खास बात यह है कि घर से भागने से पहले लड़की लाखों के जेवर और तीन लाख की एफडी भी ले गई। इससे आरोपितों की मंशा पर सवाल खड़े हो रहे हैं। पुलिस ने मुकदमा लिखकर जांच शुरू कर दी है।
    पीड़ित परिवार फीलखाना थानाक्षेत्र के कुली बाजार का रहने वाला है। दस साल पहले जर्जर मकान क्षतिग्रस्त होने के चलते एक दंपति व उसकी एक बेटी की मौत हो गई है। परिवार में केवल आठ साल की एक बेटी बची थी, जिसका लालन पालन उसके चाचा ने किया। चाचा के परिवार में भी कोई नहीं है। केवल एक बहन है। पीड़ित चाचा ने बताया कि तीन दिन पहले उसकी भतीजी घर से निकली और वापस नहीं आई। रात होने पर उन्हें चिंता हुई और पुलिस को सूचना दिया। इस बीच उन्हें पता चला कि घर में रखे बहन के जेवर, जिसमें सोने का हार, झुमकी, नाक की कील, पायल व पेटी के साथ ही भतीजी के नाम की तीन लाख की एफडी गायब है। तीन लाख रुपये मां-बाप व बहन की हादसे में मौत के बाद मुआवजे के तौर पर मिले थे। तलाश की तो पता चला कि काफी समय से उसकी भतीजी टेनरी में काम करने वाले मनोहर नगर, शुक्लागंज निवासी हुसैन के संपर्क में थी। हुसैन व उसके दोस्त शोएब उसे ले गए हैं। दोनों युवकों व युवती के मोबाइल नंबर बंद आ रहे हैं। मामले में पीडि़त चाचा की तहरीर पर मुकदमा दर्ज कर जांच की जा रही है। पुलिस ने लड़के के घर दबिश डाली, लेकिन वहां से उन्हें कोई जानकारी नहीं मिली। स्वजनों ने यह जरूर माना कि लड़की उनके लड़के के साथ ही है।
    सब प्री प्लान
    लव जिहाद के इस मामले में सब कुछ प्री प्लान लग रहा है। चाचा के मुताबिक भतीजी आठ दिन पहले ही 18 साल की हुई है। आरोपितों ने उसके बालिग होने का इंतजार किया, ताकि कानून के शिकंज से बचा जा सके। यही भी जानकारी मिली है कि लड़के ने तीन महीने पहले ही अपने मन की लड़की से शादी की थी। जिस तरह से लड़की जेवर और एफडीर ले गई, उससे स्वजनों को उसके साथ अनहोनी की आशंका सता रही है।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें