दंपत्ति सहित गौशाला में एक ही दिन तीन शवो का अंतिम संस्कार गांव में कोहराम

0
46

सरसौल (कानपुर) महाराजपुर थाना क्षेत्र के अंतर्गत ग्राम डोमनपुर के मजरा गौशाला में पति पत्नी के झगड़े में पत्नी ने डीजल डालकर आग लगा लिया जिसे बचाने में पति जयराम भी झुलस गया था जिसकी उपचार के दौरान पति जयराम की भी मौत हो गई घटना की सूचना मिलते ही गांव में कोहराम मच गया मृतक दंपत्ति के पांच बच्चों को अभी यही नही पता कि माता पिता कहा है इसके साथ ही एक महिला ने आत्महत्या किया गांव में एक ही दिन तीन शवो का अंतिम संस्कार करने का बोझ ग्रामीणों को उठाना पड़ा पूरे गांव में शोक के चलते किसी के घर चूल्हा तक नही जला । ज्ञातव्य हो कि महाराजपुर थाना क्षेत्र के अंतर्गत ग्राम डोमनपुर के मजरा गौशाला में पति पत्नी के आपसी झगड़े में पत्नी ऊषा ने डीजल डालकर आग लगा लिया था पत्नी के आग लगाने पति पत्नी को बचाने लगा लेकिन पत्नी ऊषा ने मौके पर ही दम तोड दिया था और पति जयराम काफी झुलस गया था जिसकी उपचार के दौरान रविवार को मौत हो गई ।गांव में पति जयराम की मौत की सूचना पहुंची वैसे ही कोहराम मच गया गांव में अजीब सन्नाटा पसर गया हर कोई यही कहता कि गांव में किसकी नजर लग गई कि एक ही दिन तीन लोगो ने आत्महत्या कर लिया दंपत्ति के अग्निकांड के पहले गांव की महिला अनीता ने ड्राई पी लिया था जिससे मौत हो गई रविवार का दिन गौशाला वालो के लिए किसी काले दिन से कम नही था क्योंकि पोस्टमार्टम होते ही जैसे ही शव गांव पहुंचता गांव में चीख पुकार मच जाती दिन भर गांव के लोगों ने बारी बारी से तीनो शवो का अंतिम संस्कार किया । अंतिम संस्कार करने का बोझ ग्रामीणों को उठाना पड रहा था वह असहनीय दर्द को बयाँ कर रहा था । वैसे तो पूरा गांव शोक में डूबा था किसी के घर चूल्हा तक नही जला था लेकिन महिलाओं की आंखों में आंसू उस समय छलक पडते जैसे ही ऊषा व जयराम के अबोध पांच बच्चों पर नजर जाती इनका क्या कसूर था जो इतनी कम उम्र में ही मां व बाप का साया छीन गया और ये पांचो बच्चे अनाथ हो गये । किसी के पास जवाब नही था सिर्फ बच्चों को देखकर हर किसी के आंखों से आंसू बरबस बह चलते ।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें