UP के तीन जिलों में शुरू हुआ नगर बस डिपो निर्माण, लखनऊ में अगले माह से

0
9

कोरोना काल के बाद अब नगरीय परिवहन के कार्य ने फिर से गति पकड़ी है। मथुरा, झांसी, अलीगढ़ में डिपो निर्माण का काम शुरू हो गया है। अगले माह दिसंबर में टेंडर प्रक्रिया पूरी होने के बाद लखनऊ समेत प्रदेश के सभी 14 जिलों में डिपो का काम शुरू हो जाएगा। करीब चार माह में इसे पूरा किया जाना है। 14 शहरों में बसों के लिए चार्जिंग प्वाइंट तैयार होते ही बसें शुरू कर दी जाएंगी। बता दें कि नगरीय परिवहन का बेड़ा अपनी उम्र पार कर जर्जर हो चुका है। बेडे़ में ज्यादातर बसें खटारा हो चुकी हैं।

UPSRTC Update प्रदेश के तीन जिलों में डिपो निर्माण का काम शुरू हो गया है। लखनऊ समेत शेष 11 जिलों में भी काम अगले माह तक प्रारंभ हो जाएगा। स्मार्ट सिटी के तहत डिपो निर्माण का काम किया जा रहा है।

जनवरी तक आ जाएंगी चार प्रोटोटाइप बसें

टेंडर अपलोड हो चुका है। दिसंबर माह तक डिपो निर्माण का काम शुरू होते ही ट्रायल के लिए आगामी जनवरी माह में चार प्रोटोटाइप बसें आ जाएंगी।

अगले माह तक प्रदेश के 11 जिलों में डिपो निर्माण काम हो जाएगा शुरू

जनवरी तक आ जाएंगी चार प्रोटोटाइप बसें

मथुरा, झांसी, अलीगढ़ में डिपो निर्माण का काम शुरू होने के बाद शेष बचे लखनऊ, कानपुर, गोरखपुर, मेरठ, गाजियाबाद, वाराणसी, मुरादाबाद, बरेली, शाहजहांपुर, आगरा व प्रयागराज में इलेट्रिक बसों के चार्जिंग प्वाइंट और डिपो निर्माण किया जाना है। चार माह के भीतर इसे पूरा कर लिया जाएगा।

लखनऊ में पांच स्थानों पर बनेंगे चार्जिंग प्वाइंट

  • दुबग्गा-30
  • पी-4 पार्किंग
  • राजाजीपुरम
  • विराजखंड गोमतीनगर
  • रामराम बैंक चौराहा

क्‍या कहते हैं संयुक्त निदेशक नगरीय परिवहन निदेशालय ?

संयुक्त निदेशक नगरीय परिवहन निदेशालय अजीत सिंह के मुताबिक, प्रदेश के तीन जिलों में डिपो निर्माण का काम शुरू हो गया है। लखनऊ समेत शेष 11 जिलों में भी काम अगले माह तक प्रारंभ हो जाएगा। स्मार्ट सिटी के तहत डिपो निर्माण का काम किया जा रहा है। प्रोटोटाइप बसें जनवरी से पहले आ जाएंगी। तैयारियां तेज कर दी गई हैं। टेंडर प्रक्रिया आगे बढ़ गई है

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें