हॉटस्पॉट क्षेत्रों में बढ़ाई जाएंगी हेल्थ रैपिड रिस्पांस टीम की संख्या

0
55

डीएम ने उर्सला में की बैठक
घर से बाहर निकले तो कार्यवाई

कानपुर, 26 अप्रैल। संक्रमण के प्रसार को देखते हुए प्रशासन ने सख्ती बढ़ाने की दिशा में कदमताल तेज कर दी है। इसी क्रम में जिलाधिकारी ने अधिकारियों और मजिस्ट्रेटों को निर्देशित किया कि जिन क्षेत्रों में संक्रमण के केस अधिक मिल रहे हैं उन हॉटस्पॉट एरिया को पूर्ण रूप से सील करके सोशल डिस्टेंसिंग का अनुपालन कराया जाए। साथ ही घर से बाहर निकलने वाले व्यक्तियों के विरुद्ध कड़ी कार्रवाई की जाए। जिलाधिकारी डॉ ब्रह्मदेव राम तिवारी उर्सला अस्पताल में कोरोना की महामारी से बचाव के संबंध में बैठक कर रहे थे। उन्होंने पॉजिटिव केसों वाले व्यक्तियों के संपर्क में आने वाले क्लोज कांटेक्ट के व्यक्तियों का तत्काल क्वारंटाइन कराए जाने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि हॉटस्पॉट क्षेत्रों में डोर टू डोर जागरूकता और संक्रमण से जुड़ा सर्वे कराए जाने के लिए हेल्थ रैपिड रिस्पांस टीमों की संख्या बढ़ाई जाए। इसमें चिकित्सा सुविधा के लिए मोबाइल क्लीनिक की व्यवस्था कराए जाने के निर्देश दिए। साथ ही संक्रमण के सैंपल लेने की संख्या को बढ़ाने तथा सैंपल लिए जाने वाले व्यक्ति का पूर्ण नाम पता व विवरण भी रखा जाए।
सभी संबंधित अधिकारियों को संक्रमण से बचाव के लिए आवश्यक पर्याप्त संख्या में पीपी किट दिलाने के निर्देश दिए। उन्होंने सैंपलिंग के लिए चिकित्सकों की टीम बनाने कॉन्ट्रैक्ट ट्रेसिंग हेतु पुलिस एवं स्वास्थ विभाग की टीम को कार्रवाई किए जाने के निर्देश दिए। बैठक में हॉटस्पॉट क्षेत्रों में तथा शेल्टर होम में सेनिटाइजेशन कराए जाने के भी निर्देश दिए । बैठक में नगर आयुक्त अक्षय त्रिपाठी, मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ अशोक शुक्ला, डॉ. विकास सिंघल,पुलिस अधीक्षक राजेश अग्रवाल,पुलिस अधीक्षक डॉ. अनिल कुमार सहित अपर नगर मजिस्ट्रेट एवं चिकित्सा विभाग के अधिकारी उपस्थित रहे।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें