आज दिखेगा ब्‍लू मून, साइंटिफिक रीज़न से जानिए क्‍यों है इतना खास

0
28

नई दिल्ली: अगर आपको भी चाँद का दीदार करना पसंद है, तो आपके लिए एक खुशखबरी है। आज शाम आपको एक बार फिर ‘ब्लू मून’ के दिदार होंगे। ‘ब्लू मून’ की खगोलीय घटना बेहद दुर्लभ होती है। लेकिन क्या आपको पता है की ऐसा क्यों होता है?

इस महीने में यह दूसरी बार होगा जब यह दुर्लभ पूर्ण चंद्र आपको देखने को मिलेगा। आम तौर पर हर महीने में एक बार पूर्णिमा और एक बार अमावस्या होती है। पूर्णिमा पर पूरा चांद दिखता है। वहीं अमावस पर चांद के दर्शान नहीं होते। लेकिन कभी-कभी ऐसा भी समय आता है,जब एक ही महीने में दो बार पूर्णिमा होती है, यानी की पूरा चांद नजर आता है। ऐसे में दूसरे पूर्ण चंद्र को ‘ब्लू मून’ कहा जाता है।

कैसे दिखता है ‘ब्लू मून’? इसके पिछे रीजन कया है?

नासा के मुताबिक, ब्लू मून की घटना बहुत ही दुर्लभ होती है। इस घटना को ब्लू मून नाम दिया गया है मगर ऐसा नहीं है कि चांद दुनिया में हर जगह नीला ही दिखेगा। जब वातावरण में प्राकृतिक कारणों से कणों का बिखराव हो जाता है तब कुछ जगहों पर दुर्लभ नजारे के तौर पर चंद्रमा नीला दिखाई देता है। यह घटना वातावरण में कणों पर प्रकाश पड़कर उसके बिखरने से होती है।

साइंटिस्ट बताते हैं की ‘चंद्र मास की अवधि लगभग 29 दिन, 12 घंटे, 44 मिनट और 38 सेकेंड की होती है, इसलिए एक ही महीने में दो बार पूर्णिमा हो जाती है। इसके लिए पहली पूर्णिमा महीने की पहली या दूसरी तारीख को होनी चाहिए।’

इससे पहले कब हुई थी घटना और आगे कब होगी
ब्लू मून का दिखाई देना कोई आम बात नहीं है. इससे पहले 30 दिन वाले महीने में पिछली बार 30 जून, 2007 को ब्लू मून नजर आया था। साल 2018 में दो बार ऐसा अवसर आया था जब ब्लू मून की घटना हुई थी। यह नजारा आपको आज रात 8.19 बजे के करीब दिखाई देगा। अब इसके बाद अगला ब्लू मून 31 अगस्त 2023 को होगा।

छत्तीसगढ़: डेढ़ साल की बच्ची से वहशीपन, पुलिसवाले ने पापा कहलवाने के लिए बच्ची को 50 बार सिगरेट से दागा; डीजीपी ने बर्खास्त किया, गिरफ्तार भी हुआ

जायदाद में बंटवारे का सता रहा था डर, सौतेली मां के गर्भवती होने का पता चला तो जवान बेटे ने धारदार हथियार से कर दी मां-बाप की हत्या

एकता दिवस पर प्रधानमंत्री मोदी बोले- पुलवामा हमले में वीर बेटों के जाने से देश दुखी था, तब कुछ लोग राजनीति ढूंढ रहे थे

विधानसभा चुनाव की तैयारी: गृह मंत्री अमित शाह की दो दिवसीय पश्चिम बंगाल यात्रा 5 नवंबर से

सरदार पटेल की जयंती आज: PM मोदी ने ‘स्टैच्यू ऑफ यूनिटी’ पहुंचकर दी श्रद्धांजलि, राष्ट्रपति कोविन्द और गृह मंत्री अमित शाह ने भी किया लौहपुरुष को याद

कोरोना वायरस डेली अपडेट: भारत में पिछले 24 घंटो में 48,648 नए मामले दर्ज, ताइवान में 200 दिनों में एक भी केस नहीं

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें