मूर्ति विसर्जन के दौरान युवक गंगा में डूबा, तलाश जारी

0
57

कल्यानपुर के पनकी नहर की घटना, देर रात गोताखोर युवक की तलाश में जुटे रहे
कानपुर, १ सितंबर। सरकार द्वारा घाटों में मूर्ति विसर्जन के लिए रोक लगा रखी है, वहीं युवक रिक्शा से मूर्ति विसर्जन के लिए नहर पहुंच गया। खास बात यह रही इस दौरान किसी पुलिसकर्मी की उस पर नजर नहीं पड़ी। वहीं दूसरी घाटों में पुलिस ने मूर्ति विसर्जन के लिए रोक लगा रखी है। बावजूद इसके युवक गंगा में मूर्ति विसर्जन के लिए जाते है। वहीं पूर्व में भी मूर्ति विसर्जन के दौरान कई लोग डूब चुके है। जिसके बाद भी पुलिस प्रशासन ने घाट में पुख्ता इंतजाम नहीं किए है। कल्यानपुर थानाक्षेत्र के पनकी नहर में गणपति विसर्जन करने आया युवक अचानक गहराई में जाने से डूब गया। आनन-फानन में रिक्शा चालके के शोर मचाने पर पुलिस ने गोताखारों को युवक की तलाश में गंगा में उतारा। वहीं गोताखोर देर रात तक गंगा में युवक की तलाश करते रहे, लेकिन उसका कुछ पता नहीं चल सका। इधर, युवक के नहर में डूबने की सूचना मिलते ही परिवार में कोहराम मच गया।
रावतुपर हसनपुर निवासी रमा शंकर यादव का बेटा अभिषेक उर्फ राजकुमार (३२) मंगलवार सुबह रिक्शा चालक राहुल के साथ पनकी नहर में गणपति विसर्जन करने के लिए आए थे। इसी दौरान वह नहर में नहाने के लिए उतर गया, अचानक गहराई में जाने से वह बह गया। वहीं राजकुमार को बहता देख रिक्शा चालक शोर मचाने लगा, हो-हल्ला सुन लोगों की भीड़ जमा हो गई। सूचना मिलते ही कल्यानपुर सीओ फोर्स के साथ घटनास्थल पर पहुंचे, जहां उन्होंने युवक की तलाश के लिए गंगा में गोताखारों को उतारा, लेकिन देर रात युवक की तलाश करने पर भी वह नहीं मिला।
‘साहब पति का शव ढूढ़ दो बस’
कानपुर, १ सितंबर। युवक के गंगा में डूबने की सूचना मिलते ही परिजन नहर पहुंचे। जहां पत्नी आरती का रो-रोकर बुरा हाल था। वहीं बेटा शिवाय भी बदहवास हो गया था। पत्नी बस रो-रोकर पुलिसकर्मिंयों के आगे पति को ढूढऩे को लेकर गिड़गिड़ा रही थी। वहीं थाना प्रभारी कल्यानपुर अजस सेठ का कहना है कि युवक की तलाश के लिए गंगा में गोताखोर उतार कर शव को ढूढऩे की कोशिश की जा रही है।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें