किसानों की शहादत से मोदी सरकार शर्मिंदा नहीं हुई, ट्रैक्टर रैली से उसे शर्मिंदगी हो रही- राहुल

0
15

भारतीय किसान यूनियन का बड़ा ऐलान, कहा- गणतंत्र दिवस पर नेताओं को नहीं फहराने देंगे तिरंगा

भारतीय किसान यूनियन आज बड़ा ऐलान किया है। संगठन ने ऐलान किया है कि गणतंत्र दिवस पर किसी नेता को वह तिरंगा झंडा फहराने नहीं देंगे। संगठन के युवा हरियाणा अध्यक्ष रवि आजाद ने कहा कि किसान भिवानी में बिजली मंत्री रणजीत चौटाला का विरोध करेंगे। बिजली मंत्री अगर भिवानी आए तो जिले को चारों तरफ से सील करेंगे। उन्होंने कहा कि आंदोलन चलने तक नेताओं को राष्ट्रीय ध्वज फहराने का हक नहीं है।

जो कमेटी के सदस्य कृषि कानून के समर्थक हैं वो क्या न्याय करेंगे: कांग्रेस नेता रणदीप सिंह सुरजेवाला

कांग्रेस नेता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने कहा, “सुप्रीम कोर्ट ने कमेटी के जो 4 सदस्य बनाए हैं वे तो पहले ही मोदी जी के कानूनों के समर्थक हैं। उन्होंने कहा कि आंदोलन चलने तक नेताओं को राष्ट्रीय ध्वज फहराने का हक नहीं है।

जो कमेटी के सदस्य कृषि कानून के समर्थक हैं वो क्या न्याय करेंगे: कांग्रेस नेता रणदीप सिंह सुरजेवाला

कांग्रेस नेता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने कहा, “सुप्रीम कोर्ट ने कमेटी के जो 4 सदस्य बनाए हैं वे तो पहले ही मोदी जी के कानूनों के समर्थक हैं। ऐसी कमेटी के सदस्य क्या न्याय करेंगे। प्रधानमंत्री जी…इतने अहंकारी मत बनिए किसानों की सुनिए नहीं तो देश आपकी बात सुनना बंद कर देगा।”

गणतंत्र दिवस के मौके पर यूपी के बिजनौर के किसान ट्रैक्टर मार्च की तैयारी में

कृषि बिल को लेकर दिल्ली में चल रहे प्रदर्शन के मद्देनजर उत्तर प्रदेश के बिजनौर में गन्ना समिति में किसानों की बैठक का आयोजन किया। इस बैठक के दौरान किसानों ने गणतंत्र दिवास के मौके पर दिल्ली में होने वाली परेड को लेकर आह्वान किया कि किसान भारी संख्या में अपने ट्रैक्टरों से परेड ग्राउंड पहुंचे। साथ ही किसान इस बिल के विरोध में जिलों में भी अलग-अलग तरीकों से प्रदर्शन करें।

किसान आंदोलन पर बीजेपी सांसद साक्षी महाराज ने साधा निशाना

यूपी के उन्नाव बीजेपी सांसद साक्षी महाराज ने किसान आंदोलन पर निशाना साधा है। उन्होंने कहा कि असली किसान तो खेतों में काम कर रहे हैं। नए कृषि कानूनों के विरोध में प्रदर्शन करने वालों में कुछ भटके हुए किसान हैं, उनमें से अधिकतर किसान नहीं, बल्कि बड़े व्‍यापारी हैं।

कमेटी किसान यूनियन के लोगों से और अन्य विशेषज्ञों से भी राय लेगी: कैलाश चौधरी

केंद्रीय कृषि राज्य मंत्री कैलाश चौधरी ने कहा, “सुप्रीम कोर्ट ने फैसले का हम स्वागत करते हैं। जो कमेटी बनाई गई है निश्चित रूप से आने वाले समय में सबसे निष्पक्ष राय लेगी। कमेटी किसान यूनियन के लोगों से और अन्य विशेषज्ञों से भी राय लेगी और उसके बाद निर्णय देगी।”

कैलाश चौधरी ने आगे कहा, “पुराने बिल इतने अच्छे होते तो किसान गरीब और आत्महत्या के लिए मजबूर नहीं होता। इस कानून को कुछ समय देखें अगर कुछ नहीं लगेगा तो भविष्य में और भी संशोधन किया जा सकता है।”

कृषि कानूनों के खिलाफ टिकरी बॉर्डर पर किसानों का विरोध-प्रदर्शन आज 49वें दिन भी जारी

राहुल गांधी बोले- 60 से ज्यादा किसानों की शहादत से मोदी सरकार शर्मिंदा नहीं हुई, ट्रैक्टर रैली से इन्हें शर्मिंदगी हो रही

कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों का आंदोलन जारी है। दिल्ली की सीमाओं पर किसान डटे हुए हैं। गणतंत्र दिवस के मौके पर किसान ट्रैक्टर मार्च निकालने की तैयारी में हैं। वहीं, सरकार इस पर रोक लगाने की तैयारी कर रही है। इस बीच राहुल गांधी ने मोदी सरकार पर निशाना साधा है। उन्होंने ट्वीट कर कहा, “60 से ज्यादा अन्नदाता की शहादत से मोदी सरकार शर्मिंदा नहीं हुई, लेकिन ट्रैक्टर रैली से इन्हें शर्मिंदगी हो रही है!”

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें