एटीएम लुटेरी गैंग गिरफ्त में:

0
28

एटीएम लुटेरी गैंग गिरफ्त में:हरियाणा, राजस्थान छोड़ अन्य 5 राज्यों में करते थे लूट; दो साल से फरार थे, भोपाल में दूसरी बार वारदात करते दबोचे
 

भोपाल पुलिस ने आरोपियों के पास से 15 लाख रुपए नगद समेत अन्य सामान जब्त किया।
भोपाल में 6 लुटेरों से 12 वारदातों का खुलासा
अब तक करीब दो करोड़ रुपए की चोरी कर चुके, 15 लाख जब्त

हरियाणा और राजस्थान में अपने राज्य को छोड़कर मध्यप्रदेश समेत अन्य राज्यों में एटीएम तोड़कर रकम उड़ाने वाले अंतरराज्यीय गिरोह के छह सदस्य भोपाल पुलिस ने दबोच लिए। आरोपियों की तलाश करीब दो साल से मध्यप्रदेश के अलावा कर्नाटक, असम, महाराष्ट्र और बिहार की पुलिस कर रही थी। आरोपी 14 नवंबर को ईटखेड़ी में बैंक एटीएम में चोरी करने के बाद बुधवार-गुरुवार की रात दोबारा भोपाल में एटीएम में चोरी करते पकड़े गए। पुलिस उनका पहले से ही इंतजार कर रही थी। अब तक वह 2 करोड़ रुपए से ज्यादा की रकम चुरा चुके हैं। इसका खुलासा एडीजी भोपाल उपेंद्र जैन ने किया।

एडीजी भोपाल उपेंद्र जैन ने बताया कि अब तक आरोपियों ने 12 वारदातों का खुलासा किया है। बदमाश करीब 2 करोड़ रुपए विभन्न एटीएम से चुरा चुके हैं।
एडीजी भोपाल उपेंद्र जैन ने बताया कि अब तक आरोपियों ने 12 वारदातों का खुलासा किया है। बदमाश करीब 2 करोड़ रुपए विभन्न एटीएम से चुरा चुके हैं।
एडीजी जैन के अनुसार दीपावली की रात भोपाल के ईटखेड़ी थाना क्षेत्र में आईडीबीआई बैंक के एटीएम में चोरी हुई थी। आरोपियों ने गैस कटर की मदद से एटीएम काटकर रुपए निकाले थे। पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज समेत अन्य माध्यमों से आरोपियों पर नजर रखी। इस दौरान आरोपियों की सक्रियता महाराष्ट्र में दिखी। यहां इसी तरह से महाराष्ट्र के सोलापुर में चोरी हुई। इसके बाद आरोपी दोबारा भोपाल का रुख करके यहां आ गए। पुलिस उन पर नजर रखे थे।

आरोपी परवलिया इलाके में एसबीआई के एटीएम में चोरी करने पहुंच गए। आरोपियों ने गार्ड को बंधक बनाकर एटीएम मशीन को काटना शुरू कर दिया था। इसी दौरान पुलिस ने उन्हें पकड़ लिया। मौके से 6 आरोपी पकड़े गए। उनके पास से जब्त सामग्री-गैस कटर, एक देशी कट्टा, गैस सिलेंडर, आक्सीजन सिलेंडर, दो पाइप, एक सफेद रंग की स्विफ्ट डिजायर कार और नगद 15 लाख रुपए भी जब्त किए गए हैं।

आरोपी 12 दिन में दूसरी बार भोपाल में चोरी करने आ गए थे। पुलिस उनकी तलाश कर रही थी।

इस तरह वारदात करते थे

पूछताछ में आरोपियों ने बताया कि प्राइवेट कार से निकलते थे। किसी भी दूरदराज के एटीएम को चिन्हित करते थे। वह ऐसे एटीएम को चुनते थे, जिसमें सेंसर न हो। इसके बाद रात दो से लेकर तीन बजे एटीएम में घुसते थे। गैस कटर से एटीएम काटकर रुपए निकाल लेते थे। यह रुपए वह कार के डेशबोर्ड में छिपाकर रखते थे।

आरोपियों का विवरण

नाम    उम्र    पता
शमशेर उर्फ दलसेर    40 साल    ग्राम गंगोरा पोस्ट पहाड़ी जिला भरतपुर, राजस्थान
सहाजत उर्फ शहादत हाजर    25 साल    पिनगवां तह-पुनहाना, जिला नूह हरियाणा
शाकिर    40 साल    ग्राम गंगोरा पोस्ट पहाड़ी जिला भरतपुर, राजस्थान
आस मोहम्मद    34 साल    साल नगली पठान पोस्ट लंगड़वास तहसील किशनगढ़ वास अलवर, राजस्थान
मसीउल्लाह    21 साल    ग्राम राईपुरी तह. नूह जिला नूह, हरियाणा
मुंशरीफ खाना उर्फ शरीफ    27 साल    ग्राम सरसवास, तह-पुन्हाना जिला नूह, हरियाणा

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें