Saturday, July 11, 2020
होम अन्य एडिशन पटना श्रीहरि चले जायेंगे शयन करने

श्रीहरि चले जायेंगे शयन करने

इस बार 5 महीने का चातुर्मास कल से

पटना (आससे)। आषाढ़ शुक्ल एकादशी हरिशयनी एकादशी से कल आरंभ हो रहा चातुर्मास। इस वर्ष पुरूषोत्तम मास मलमास पडऩे से पांच महीनों का होगा चातुर्मास, यह एक दुर्लभ संयोग है। देवशयनी एकादशी, पज्ञा एकादशी, पज्ञनामा एकादशी नाम से विख्यात यह एकादशी इस वर्ष १ जुालई को आ रही है।

इस आशय का निर्णय देते हुए कामेश्वर सिंह दरभंगा संस्कृत विश्वविद्यालय के शोध छात्र ज्योतिषी पं. राघव नाथ झा ने कहा इस दिन ४ महीने के लिए भगवान शयन करने राजा बलि के यहां चले जाते है वहीं निवास करते है। इस वर्ष भी पांच महीने का यह चातुर्मास कार्तिक शुक्ल एकादशी देवप्रबोधिनी एकादशी तक सम्पन्न होगा।

शास्त्र सम्मत सनातन मान्यता अनुसार चातुर्मास ऐसे दिन होते है जिसमें नकारात्मक शक्तियों का प्रभाव बढऩे लगता है और शुभ शक्तियां कमजोर पडऩे लगती है। ऐसे में शुभ शक्तियों को जागृत रखना आवश्यक होता है। देव प्रबोधिनी एकादशी के बाद देवता के उठने के साथ ही शुभ शक्तियां बढऩे लगती है। इसलिए चातुर्मास में कथा सत्संग, प्रवचन, पूजा, व्रत आदि अनुष्ठान प्रशस्त है। आश्विन में पडऩे वाले मलमास में दान का विशेष महत्व बताया गया है। इस महीने में गुड़, सड़सों, मालपुआ और स्वर्ण दान का विशेष पुण्य कहा गया है। संध्योपासना कर्म, पर्व का हवन, ग्रहण का जप, अग्निहोत्र देव पूजन, अतिथि पूजन अधिक मास मलमास में भी ग्राह्य  है। अर्थात ये सब अनुष्ठान निर्वाध होते रहेंगे।

मलमास में ३३ देवताओं का स्मरण पूजन करने का विधान शास्त्र विहित है, जबकि तीर्थयात्रा, देवप्रतिष्ठा, तालाब, बगीचा का यज्ञ, यज्ञोपवीत संस्कार आदि कर्म निष्क्रिय रहेंगे इस वर्ष ५ महीने तक। राज्याभिषेक, अन्नप्राशन, गृह आरंभ, गृहप्रवेश आदि कर्म नहीं करे का निर्देश है। चातुर्मास की सम्पूर्ण अवधारणा सर्वकल्याणकारी काल अवधि का साक्षी बनने के लिए है। चातुर्मास में ही जनसामान्य को साधु संगति का सुअवसर मिलता रहा है।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Most Popular

अन्तत: पीछे हटा चीन

डा. श्रीनाथ सहाय गलवानमें ही पीपी-१४ के पास १५ जूनको हिंसक झड़प हुई थी। तबसे भारत और चीनके...

पूर्णत: संदिग्ध है मुठभेड़

विकेश कुमार बडोला जब गुरुवारको वह उज्जैनके महाकालेश्वर मंदिरमें उपस्थित था और मध्य प्रदेश पुलिसने गुप्त सूचनापर उसे...

अद्भुत और अलौकिक होगा श्री काशी विश्वनाथ धाम

अपर मुख्य सचिव कृषि ने मंदिर परिसर का किया निरीक्षण, दर्शन पूजन करने के बाद कॉरिडोर के कार्यों की ली जानकारी

लोगोंकी जागरुकता के लिए सड़क पर उतरी पुलिस

कोरोना से लड़ाईमें प्रशासन का सहयोग करनेकी अपील दो दिवसीय सम्पूर्ण लॉकडाउनके बारेमें एसपी सिटी विकास चन्द त्रिपाठीके...

Recent Comments

Translate »