Sunday, July 5, 2020
होम स्थानीय खबर लखनऊ Unlock 1.0 को लेकर उत्तर प्रदेश UP सरकार ने फिर जारी...

Unlock 1.0 को लेकर उत्तर प्रदेश UP सरकार ने फिर जारी की गाइडलाइंस

लखनऊ. उत्तर प्रदेश सरकार ने 8 जून को लेकर एक बार फिर नई गाइडलाइंस जारी कर दी हैं. अब मंदिरों, शॉपिंग मॉल्स और अन्य सार्वजनिक व धार्मिक स्‍थलों को खोलने से पहले जिला प्रशासन की अनुमति लेना जरूरी होगा. साथ ही मंदिरों में एक बार में पांच से ज्यादा लोग प्रवेश नहीं कर सकेंगे. इसी के साथ कार्यालयों व अन्य सार्वजनिक स्‍थानों को लेकर भी कई महत्वपूर्ण बदलाव किए गए हैं. गौरलतब है कि इससे पहले उत्तर प्रदेश सरकार ने 31 मई को गाइडलाइंस जारी की थीं, जिसमें 8 जून से मंदिरों व शॉपिंग मॉल्स को खोलने की बात थी.

उत्‍तर प्रदेश के मुख्‍य सचिव राजेंद्र कुमार तिवारी द्वारा जारी किए गए आदेश में कहा गया है कि धार्मिक स्‍थलों को खोलने के बाबत प्रशासन और पुलिस से आदेश मिलने के बाद भी कुछ नियमों का पालन करना होगा. इन नियमों के तहत, किसी भी धार्मिक या पूजा स्‍थल में एक स्‍थान पर 5 से अधिक श्रद्धालुओं के एकत्रित होने पर मनाही होगी. इसके अलावा, प्रवेश द्वार पर हाथों को कीटाणु-रहित करने के लिए एल्‍कोहल युक्‍त सैनिटाइजर का प्रयोग किया जाए. साथ ही, धार्मिक स्‍थल आने वाले श्रद्धालुओं का टैंपरेचर नापने के लिए इंफ्रारेड थर्मामीटर की भी व्‍यवस्‍था करना होगी.
अपर मुख्य सचिव (गृह एवं सूचना) अवनीश कुमार अवस्थी ने बताया कि धर्मस्थलों, कार्यालयों, मॉल, होटल और रेस्तरां के लिए जो दिशानिर्देश जारी किये गये हैं, उनमें एक बात अनिवार्य है कि सभी के लिए चेहरा ढंकना और मास्क पहनना अनिवार्य होगा. अनलॉक1.0 के तहत जो छूट दी गयी है, उस दौरान बिना मास्क के कोई भी व्यक्ति किसी भी रूप में नहीं रहेगा. अवस्थी ने बताया कि मुख्यमंत्री ने कहा कि हर व्यक्ति सार्वजनिक स्थल पर छह फीट की दूरी बनाकर रखेगा. प्रत्येक भवन में प्रवेश से पहले अल्कोहल युक्त सेनेटाइजर का अनिवार्य रूप से उपयोग करेंगे. प्रत्येक भवन, धर्मस्थल एवं अन्य स्थानों पर सेनेटाइजर की व्यवस्था की जाएगी.

अपर मुख्य सचिव (गृह एवं सूचना) अवनीश कुमार अवस्थी ने बताया कि श्वसन संबंधी शिष्टाचार के लिए निर्देश है कि छींकते समय मुंह और नाक को ढंककर रखें, ताकि अन्य लोगों को संक्रमण की आशंका कम रहे. अगर उपलब्ध है तो टिश्यू पेपर का इस्तेमाल करें और उनका निस्तारण सुनिश्चित करें. अपर मुख्य सचिव ने कहा, यदि कोई संक्रमित होता है तो वह तुरंत स्वास्थ्य विभाग की हेल्पलाइन पर संपर्क करें. हमारी जिम्मेदारी है कि हम खुले में ना थूकें. ऐसा करने वालों के खिलाफ कार्रवाई होगी. प्रत्येक व्यक्ति को यह जिम्मेदारी लेनी होगी क्योंकि थूकने से संक्रमण फैलने की आशंका रहती है.

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Most Popular

बोधगया: भारत सरकार के युवा मंत्रालय से मगध विवि को मिला प्रशस्ति पत्र

बोधगया (आससे)। राष्ट्रीय युवा महोत्सव, लखनऊ से लौटे गया कालेज गया राष्ट्रीय सेवा योजना के स्वयंसेविका चंचल कुमारी को मगध विश्वविद्यालय छात्र...

गया: अतिथि शिक्षकों की शैक्षणिक समस्याओं पर हुई चर्चा

गया। बिहार राज्य उच्चतर माधयमिक अतिथि शिक्षक संघ की एक बैठक गांधी मैदान स्थित गांधी मंडप प्रांगण में संपन्न हुई। बैठक की...

गया: शहर में सुरसा के मुंह कर तरह बढ़ा कोरोना का संक्रमण, 36 घंटे में 42 मरीज

गया। शहर में कोरोना का संक्रमण सुरसा की तरह तेजी से बढ़ रहा है। बीते 36 घंटे में 42 नए केस सामने...

गया: लेमन ग्रास की फसल एक साल लगायें और पांच साल तक काटें उपज: डॉ : प्रेम

गया। डॉ. प्रेम कुमार मंत्री कृषि, पशुपालन एवं मत्स्य संसाधन विभाग, बिहार ने उद्यान निदेशालय, बिहार के दिशा-निर्देश के अनुसार मुख्यमंत्री बागवानी...

Recent Comments

Translate »